मेरान्यूज नेटवर्क. राजकोट : 2019 के चुनावों की घोषणा हो चुकी है। और हाल हीं में यह सालों से कोंग्रेस का साथ दे रहे दिग्गज नेताओंने 'हाथ' का साथ छोड़कर भाजपा का 'भगवा' खेस धारण कर लिया है। चुनाव के वक़्त ऐसा होना आम बात मानी जाती है। अपने दिग्गज नेताओ को खोने के बाद भी राहुल गांधी समेत कोंग्रेस के सिनियर नेताओं द्वारा इस बारेमें खास कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है। लेकिन आश्चर्यजनक बात यह है कि, हार्दिक पटेल के कोंग्रेस से जुड़ने के बाद खुद सीएम रुपाणी उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल जैसे दिग्गजों द्वारा प्रतिक्रिया दी गई है। 

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने हार्दिक के बारेमें बताते हुए कहा था कि, हार्दिकने कोंग्रेस में शामिल हो कर जनता और समाज के साथ धोखा कीया है। हमने पहले भी कहा था कि, हार्दिक कांग्रेस का खिलौना हे। और आज उसने हमारी बात को सही साबित कर दिया है। कोंग्रेस के बारेमें उन्होंने कहा था कि, आतंकवाद के सामने लडने की कांग्रेस मे हिम्मत नही है।

उपमुख्यमंत्री नितिन पटेलने भी हार्दिक पर कड़े प्रहार कर उसे समाज का दोषी बताया था। उन्होंने कहा था कि, हार्दिकने समाज के नाम पर आंदोलन चलाकार समाज को छिन्नभिन्न कर दिया है। और बादमें अपने स्वार्थ के लिए कोंग्रेस में शामिल हो गया है। समाज के नाम पर अपना स्वार्थ साधने वालो को समाज कभी भी माफ नहीं करेगा। दूसरी तरफ कोंग्रेसमें शामिल होने से पहले भाजपा के वरिष्ठ नेता केशुभाई पटेलने हार्दिक को आशीर्वाद तक नही दिए थे।