मेरान्यूज नेटवर्क. जुनागढ : हाल ही में सालो पुराना कोंग्रेस का साथ छोड़ भाजपा से जुड़कर केबिनेट मंत्री बने जवाहर चावड़ा अपने एक भाषण के दौरान बेफाम हो गए थे। जिसमें उन्होंने न सिर्फ मिडिया का अपमान किया था, बल्कि मिडिया के विरुध्ध अशोभनीय टिप्पणी भी कर दी थी। चावड़ाने कहा था कि, जबसे भाजपा से जुड़ा हु, मिडिया के पास एक ही सवाल है कि क्या आपको कोंग्रेस में कोई तकलीफ थी ? बादमे मिडिया को लक्ष्यमें रखकर कहा था कि, "तेरे बाप को कोंग्रेसमें कोई तकलीफ नही थी"

इतनी बड़ी गलती करने के बाद भी मंत्री महोदय तो इस बात को सामान्य करार दे रहे है। और अपनी गलती की माफी मांगने के बजाय उन्होंने उल्टे मिडिया को सलाह दे डाली है। चावड़ाने कहा है कि, मेरा कोई खराब इरादा नही था लेकिन काठियावाड़ में ऐसे ही बोला जाता है। मेरे 20 मिनट के भाषणमें बहोत सी अच्छी चीजें भी थी। ऐसेमें मिडिया को वह 3 सेकन्ड निकलने के बजाय उन अच्छी बातों पर गौर करना चाहिए था।

हालांकि लोगोंमे चर्चा है कि, स्वार्थ के लिए भाजपा से जुड़ने वाले चावड़ा को हारने का डर सता रहा है। जिसके चलते वह बौखलाहट में कुछ भी बोल रहे है। लेकिन मिडिया के विरुध्ध उसके द्वारा की गई टिप्पणी के बाद भी उनके तेवर देखकर यह विवाद और भी पेचीदा होने के आसार नजर आ रहे है।