COVER STORY

सौराष्ट्र के २०० ट्रावेल एजंटों की देशभक्ति, 5 साल के लिए कश्मीर टूर का बहिष्कार कर ३०० करोड़ का धंधा ठुकराया

travel agent

मेरान्यूज नेटवर्क.राजकोट: पुलवामा में हुए आतंकी हमले का देशभर में जमकर विरोध किया जा रहा है। देश का हर एक वर्ग अपने तरीके से शहीदों के लिए कुछ न कुछ कर रहा है। ऐसे में सौराष्ट्र के २०० ट्रावेल एजंटोंने पांच साल के लिए कश्मीर टूर का बहिष्कार कर ३०० करोड़ का बिज़नेस ठुकरा कर अपनी देशभक्ति का परिचय दिया है। इतना ही नहीं जिस किसी ऑफर में कश्मीर की टिकट फ्री दी जा रही थी ऐसी टूर का भी अस्वीकार करने का निर्णय लिया है।

कश्मीर के टूर एजंटों को इस बारेमें जानकारी मिलते ही उन्होंने बहिष्कार में जुड़े एजंटों का संपर्क कर ऐसा नहीं करने के लिए हाथपैर जोड़े थे। और सौराष्ट्र के प्रवासियों को खास सुरक्षा देने का वादा भी किया था। लेकिन देश के जवानों की शहादत से गुस्साए स्थानिक एजंटों ने इस बारेमें बात करने से भी इन्कार कर दिया है। 

सौराष्ट्र ट्रावेल एजेंट एसोसिएशन के सेक्रेटरी अभिनव पटेल ने बताया था कि, देश के जवानों की जिंदगी अमूल्य है। और उसके लिए हम किसी भी प्रकार का नुकसान उठाने को तैयार है। जब तक आतंकी हमले बंद नहीं होंगे हम कश्मीर की एक भी टूर नही करके अपनी देशभक्ति का परिचय देंगे।

बतादे कि, सौराष्ट्र के लोग समर वेकेशन के लिए कश्मीर, कुलु मनाली, सिमला जैसी जगहों पर जाना पसंद करते है। हाल ही में मिली ट्रावेल एजेंट एसोसिएशन की बैठक में १७० ट्रावेल एजेंट और ७० रेलवे के एजंटों ने कश्मीर टूर का बहिष्कार करने में समर्थन दिया है। सिर्फ सौराष्ट्र से ही कश्मीर को सालाना ३०० करोड़ का बिजनेस मिलता है। ऐसे में इस बहिष्कार के चलते कश्मीर का प्रवासन विभाग को बड़ा झटका लगना निश्चित है।

 

ALL STORIES

Loading..